जब 10 साल छोटी शबाना आजमी पर आया था Javed Akhtar का दिल, पत्नी और दो बच्चों को छोड़ थामा था हाथ

हिंदी सिनेमा जगत में जावेद अख्तर एक ऐसा नाम हैं जिन्हें किसी पहचान की जरुरत नहीं है। वह एक मशहूर कवि, गीतकार और लेखक हैं। जावेद अख्तर ने इंडस्ट्री के ऐसे गानें लिखें हैं। जो आज भी लोगों की जुंबा से सुने जाते हैं। जावेद अख्तर अपने काम के साथ-साथ अपनी पर्सनल लाइफ की वजह से भी खूब सुर्खियों में रहते हैं। तो चलिए आपको उनकी निजी जिंदगी से जुड़ी एक खास बात आपको बतातें हैं।

जावेद अख्तर की पहली पत्नी
जावेद अख्तर की पहली पत्नी का नाम हनी ईरानी है। वह भी एक स्क्रिप्ट राइटर थीं। दोनों की मुलाकात भी एक फिल्म सेट पर हुई थीं। बताया जाता है कि फिल्म सीता-गीता के सेट पर जावेद हनी से मिले थे। जावेद अपने दोस्तों संग पत्ते खेल रहे थे। तभी हनी आई और उन्होंने जावेद को खेल में जीत दिलाने की कोशिश की। देखते ही देखते पत्तों की बाज़ी में जावेद जीत गए और दूसरी तरफ अपना दिल हनी पर हार बैठे। जावेद साहब ने भी मौका देखा और अपने दिल की बात हनी से कह दी।

सलीम खान ने मनाया परिवार वालों को
जावेद अख्तर संग हनी का रिश्ता उनके घर वालों को बिल्कुल पसंद नहीं था। तब जावेद अख्तर को सलीम खान ( Salim Khan ) की मदद लेनी पड़ी। जावेद अख्तर ने सलीम खान को कहा कि वह हनी के घरवालों को मनाने में उनकी मदद करेंगे। क्योंकि हनी उनसे उम्र में बेहद ही कम थीं। बताया जाता है कि जिस वक्त जावेद अख्तर ने हनी से शादी की वह महज 17 साल की थीं। 1972 में हनी और जावेद ने शादी कर ली थी। जिसके बाद उनके दो बच्चे हुए। जिनका नाम फरहान और जोया अख्तर है। फरहान सिंगिग और अभिनय के क्षेत्र में अपना नाम बना चुके हैं। वहीं उनकी बहन जोया एक बेहतरीन फिल्म निर्माता हैं।

हनी के बाद शबाना आजमी पर आया जावेद का दिल
17 साल छोटी हनी ईरानी से शादी के बाद जावेद के दिल के तार एक और हसीना ने छेड़ दिए। वह हसीना कोई और नहीं बल्कि गुज़रे जमाने की मशहूर अदाकारा शबाना आज़मी थीं। जावेद का दिल शबाना पर तब आया जब वह इंडस्ट्री की मशहूर अभिनेत्री बन चुकी थीं। खास बात यह है कि शबाना मशहूर शायर कैफ़ी आजमी की बेटी थीं। शबाना संग जावेद की पहली मुलाकात उनके घर पर ही हुई थी। पहली ही मुलाकात में जावेद शबाना को दिल दे बैठे थे। जावेद ही नहीं बल्कि शबाना भी उन्हें मन ही मन चाहने लगी थीं। देखते ही देखते दोनों के बीच अफेयर शुरू हो गया।

पहली पत्नी को तलाक देकर की दूसरी शादी
जावेद और शबाना का प्यार समय के साथ परवान चढ़ने लगा। इंडस्ट्री में भी दोनों के अफेयर्स की खबरें उड़ने लगी। कुछ समय बाद ही जावेद ने अपनी पहली पत्नी को तलाक देने का फैसला ले लिया। शबाना संग शादी करने में भी जावेद को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। बताया जाता है कि शबाना आजमी के पिता बिल्कुल नहीं चाहते थे कि उनकी शादी जावेद संग हो। उन्हें बिल्कुल पसंद नहीं था कि शबाना एक शादीशुदा मर्द से शादी करें। लेकिन जावेद और शबाना के प्यार के सामने उनके पिता की भी नहीं चली। तलाक लेने के बाद साल 1984 में जावेद ने शबाना संग शादी कर ली।

, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल,

Comments are closed.